अब हम समझते हैं मोमेंटम ट्रेडिंग को जब किसी शेयर में ब्रेक आउट होता है तो उस ब्रेकआउट पर ट्रेडिंग करने को मोमेंटम ट्रेडिंग कहते हैं ब्रेकआउट कई प्रकार के होते हैं

demat-account

Demat Account Kya Hai ? 📈 डीमैट खाता कैसे खोलें

क्या आप जानते है की Demat Account Kya hai और ये काम कैसे करता है आज हम आपको अपने इस लेख के द्वारा पूरी जानकारी देगे हमारे इस लेख को ध्यान से पढ़े demat अकाउंट वो माद्यम है जिसकी सहायता से आप शेयर खरीद और बेच सकते है लेकिन उसकी भी कुछ शर्त है जिसके तहत आपको demat एप्लीकेशन पर अपना अकाउंट बनाना होगा इसके लिए आपके पास पेन कार्ड होना बहुत जरुरी है

अगर पहले के समय को देखा जाये जब हम किसी कंपनी के शेयर खरीदते थे तब बहुत पेपर वर्क होता था वो समय इतना डिजिटल नही था तब वो कंपनी आपको शेयर से जुड़े पेपर्स भेजती थी ताकि आपके पास भी प्रूफ हो कि आपने उस कंपनी मे निवेश किया है

अगर आसान भाषा मे कहे तो जब भी आप अपने बैंक अकाउंट से एटीएम से पैसे निकलते है तो वो डिजिटल करेंसी कहलाती है और जब डेबिट कार्ड से कही पेमेंट करते है तो वो डिजिटल पेमेंट होती है इसी तरह जो हमारे डीमैट अकाउंट मे शेयर होते है और हम उन्हें किसी और के Demat Account मे ट्रान्सफर करते है तो इस डिजिटल लेन देन को Demat कहते है।

डीमैट खाता कैसे खोलें-How to Open Demat Account?

  • Demat खाता खोलने की प्रकिर्या बहुत आसान है सबसे पहले ये देख ले कि आप सही डिपॉजिटरी प्रतिभागी का चयन कर रहें हैं या नहीं तसल्ली होने के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू करे वैसे आजकल बहुत सी ब्रोकरेज और वित्तीय संस्थान ये सेवा प्रदान कर रही हैं
  • सबसे पहले आप ये निर्णय ने की आप demat खाता कहाँ खोलना चाहते है और ये भी सोच ले की आप अपना डिपॉजिटरी प्रतिभागी आप किसे बनायेगे जिसके साथ आप अपना demat खाता खोलेगे लेकिन ज्यादातर डिपॉजिटरी प्रतिभागी ब्रोकर और वित्तये संस्था ही उपलब्ध कराती है
  • इसके बाद आपको एक फॉर्म भरना होगा जिसमे आपको अपनी पूछी गई साडी जानकारी बिलकुल सही ढंग में भरनी होगी साथ ही एक पासपोर्ट size फोटो भी उस फॉर्म पर चिपकाए इसी के साथ जरुरी दस्तावेज और पेन कार्ड भी साथ रखे फॉर्म भरते समय इनकी भी जरूरत पड़ सकती हैं
  • आपको एक पेपर उपलब्ध कराया जायेगा जिसमे सभी नियम ,शर्ते जोखिम लिखे होगे और उसमे उन शुल्को की भी सूचि होगी जो आप खर्च करेगे
  • डीपी के कर्मचारियों का एक सदस्य खाता खोलने के फॉर्म में दिए गए विवरण की जांच करने के लिए आपसे संपर्क करेगा। और आपको पूरी जानकारी देगा . इस पूरी प्रक्रिया के दौरान, एक इन-पर्सन वेरिफिकेशन किया जाएगा

Demat Account खोलने के लिए किन-किन डाक्यूमेंट्स की जरुरत होती हैं : –

Demat Account मे ट्रेडिंग करने के लिए कुछ जरुरी दस्तेवेज चाहिए होते है आप इन दस्तावेज के बिना अकाउंट ओपन नही कर सकते
और न ही शेयर खरीद और बेच सकते है आपको निचे दिए गए दास्तावेज की जरूरत पड़ती हैं

  • पैन कार्ड / Pan Card
  • आधार कार्ड / Aadhaar Card
  • 2 पासपोर्ट आकार की तस्वीरें (Passport Photos)
  • कैसिल चेक (Cancelled Cheque) / सेविंग बैंक खाता पासबुक (Savings PassBook)

Demat Account खोलने में कितने रुपये लगते है?

Demat Account खोलना बहुत आसान है और इसमें ज्यादा पैसे भी खर्च नही होते अगर आप ये सोचते है की Demat अकाउंट खोलने मे बहुत पैसे खर्च होते है तो आपकी सोच गलत है आप मात्र 300 से 700 रुपए डीमैट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं? मे Demat अकाउंट खोल सकते है और शेयर खरीद और बेच सकते है।

Demat अकाउंट खोलने के लिए 300 रुपए लगते है लेकिन Demat पर अकाउंट चलाने के लिए डीपी आपसे अलग अलग कंपनी मे निवेश करने के लिए अलग फीस ले सकता है।

आपसे जो सबसे पहले पैसे लिए जाते है वो अकाउंट ओपनिंग फीस होती है और जो बाद मे अकाउंट मैनेज किया जाता है उसकी अलग से अकाउंट मैनेजमेंट फीस होती है इस फीस से कंपनी आपके अकाउंट को सालभर मैनेज करती है।

अपने कितने शेयर ख़रीदे है और कितने बेचे है उसका शुल्क चार्ज लिया जाता है जिसे transaction फीस कहते है ये एक तरह का commission कहलाता है

शेयर मार्केट के लिए टॉप डीमेट अकाउंट (8 Best Demat & Trading Accounts)

Best Demat Account In India

आज की बात करे तो अकेली यह कंपनी ब्रोकिंग में 10 लाख से अधिक ग्राहकों को Financial Service प्रदान कर रही है| यह भी Allover एक बढ़िया कम्पनी है, आप इसकी Service और Charges को देखकर अपने लिए चुनाव कर सकते है –

Angel Broking

Angel Broking App

इसका एक मोबाइल ऐप भी है जिसकी मदद से आप आसानी से वर्तमान बाजार की स्थति, मूल्यों और परिवर्तन को देख कर अपने पोर्टफोलियो को ट्रैक कर सकते है|

Angel Eye

यह बाजार में Portfolio की ट्रेकिंग करने और Updates Information के लिए एक अच्छा प्लेटफार्म है| यह Up to Date बाजार की सारी जानकारीया और Live New भी प्रदान करते है|

#6 Religare

रेलिगेयर सिक्योरिटीज लिमिटेड एक Financial Service Group है जो ऑनलाइन और ऑफ़लाइन दोनों प्लेटफार्मों पर 8 लाख से ज्यादा लोगो को सेवाए प्रदान कर रही है|

आप इसके डीमैट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं? चार्जेज और सेवाओ को देख कर अपने लिए चुनाव कर सकते है –

  • RSL में आप एक खाते के माध्यम से डीमैट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं? इक्विटी, डेरिवेटिव, मुद्रा, वायदा, कमोडिटीज और म्यूचुअल फंड आदि सभी में निवेश कर पाएँगे|
  • यह आपको एक मोबाइल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, जिसकी मदद से आप किसी भी समय और कही से भी ट्रेडिंग कर पाएँगे|
  • और आपको Intraday Reporting के साथ Historical Chart की सुविधा भी प्रदान करता है|

  • Trading Account Opening Charges Rs. 0
  • Demat Account Opening Charge Rs. 0
  • Demat Account Maintenance 1st Year Free (Rs. 500 Yearly)
  • Intraday Charges 0.05%
  • Delivery 0.50%

#7 Aditya Birla

आदित्य बिरला का नाम आपने कई बार सुना होगा – यह फाइनेंसियल सर्विस कंपनी बहुत ही Low चार्जेज के साथ अधिक फायदा पहुंचती है|

इसमें डीमैट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं? डीमेट खाता के खर्च भी कम है और मार्जिन भी कई गुना ज्यादा है –

  • Demat Account Open करने के लिए Rs. 0 रूपये का चार्ज लगता है|
  • Demat Account Maintenance का 450 रुपये सालाना खर्च|
  • Trading Account Open करने का चार्ज Rs. 750 रूपये और
  • Trading Account Maintenance का चार्ज भी Rs. 0 रुपये|

Margin Provided

  • Commodity पर 4 गुना|
  • Equity Delivery पर 5 गुना|
  • Equity Intraday पर 15 गुना|
  • Currency Futures पर 3 गुना|
  • Equity Futures पर 3 गुना मार्जिन है|
  • Intraday Selected Nifty Script – 40 गुना

#8 Kotak Securities

कोटक आपको एक ऐसा Demat Account प्रदान करता है जिससे आप इक्विटी, म्यूचुअल फंड और मुद्रा डेरिवेटिव सभी में आसानी से निवेश कर पाएँगे|

इसके साथ ही शेयर्स, बांड, प्रतिभूतियां, म्यूचुअल फंड्स और एक्सचेंज सभी के प्रमाण पत्र एक साथ एक ही जगह पर रख पाएँगे| यह मुख्य रूप से Traders और Investors लिए बहुत ही उपयोगी व फ्रेंडली Demat Account है|

कोटक सिक्योरिटीज अपने निवेशको को आवश्यकता के अनुसार 4 प्रकार के ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करता है|

  • इसकी शेयर ट्रेडिंग वेबसाइट जो कही से भी एक्सेस हो सकती है और धीमी गति के इंटरनेट के साथ भी निवेशक इसका उपयोग कर सकते है|
  • कोटक एक Mobile App भी प्रदान करता है जिसके जरिये Trades execute कर सकते हैं, पोर्टफोलियो मॉनिटर कर सकते हैं, स्ट्रीमिंग कोट्स और इंट्राडेट चार्ट देख सकते हैं।
  • इसमें 1400 से अधिक शाखाओं के माध्यम से निवेशको को सुविधा प्रदान करता है।
  • कोटक कई सारे Investment Option प्रदान करती है| यह अपने ग्राहकों को SMS अलर्ट, बाजार पॉइंट्स, प्रियोडीकल रिपोर्ट आदि की सुविधाए के साथ साथ ऑनलाइन चैट की सुविधा भी देती है|

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कितने प्रकार से की जाती हैं

S L kashyap मार्च 22, 2021 1

Types of Trading Style
Types of Trading

आज हम समझेंगे Types of Trading Style कि हम कितने प्रकार से ट्रेडिंग कर सकते हैं जब एक बार आप शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने का निर्णय ले लेते हैं तो उसके बाद सबसे बड़ा निर्णय यह होता है कि आप किस प्रकार की शेयर ट्रेडिंग करना चाहते हैं शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने के बहुत सारे तरीके मौजूद हैं आज इन्ही तरीकों को समझने का प्रयास करेंगे ट्रेडिंग करने का कोई सा भी डीमैट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं? तरीका बहुत ज्यादा अच्छा या बुरा नहीं होता है बल्कि आपकी बाजार से उम्मीदें बाजार की जानकारी और रिस्क लेने की क्षमता के अनुसार ट्रेडिंग स्टाइल आपके लिए सही या गलत हो सकता है एक अच्छा ट्रेडिंग स्टाइल चुनने के लिए आपको आपके इमोशन Technical Analysis की जानकारी और ट्रेडिंग साइकोलॉजी का Analysis करना पड़ता है यह जानने के लिए कि कौन सा ट्रेडिंग स्टाइल आपके लिए अच्छा है ट्रेडिंग की शुरुआत में आप सभी ट्रेडिंग स्टाइल को ट्राई करके जरूर देखें और उसके बाद डीमैट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं? यह Analysis करिए कि कौन से ट्रेडिंग स्टाइल में आपका सक्सेस रेट अच्छा है उसके बाद जिस ट्रेडिंग स्टाइल पर आपको पूरा विश्वास है कि आप उसे सही तरीके से कर सकते हैं उसी ट्रेडिंग स्टाइल को चुनिए

डीमैट अकाउंट
क्या होता है?डीमैट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं?

डीमैट अकाउंट Shares को सुरक्षित रखते हैं, जिससे फोर्जरी(फर्जी या नकली दस्तावेज) से संबंधित शेयरों या जोखिमों की हानि को रोकते हैं.

यह प्रतिभूतियों (Securities) की तेजी से व्यापार करने की एक आसान विधि है.

ऑनलाइन स्टॉक मार्केट में Shares का Trading करने के लिए Demat Account और ट्रेडिंग Trading Account की आवश्यकता होती है.

Demat Account कितने प्रकार के होते है?

Demat Account के तीन प्रकार होते है|

रेगुलर डीमैट अकाउंट

रिपेट्रिएबल डीमैट अकाउंट

नॉन-रिपेट्रिएबल डीमैट अकाउंट

किसी भी Demat Account को खोलने के लिए निम्न प्रकार के डॉक्यूमेंट की आवश्यकता पड़ती है

पहचान का प्रमाण
पते का प्रमाण
आय का प्रमाण

बैंक अकाउंट का प्रमाण (कैंसल्ड चेक)
PAN कार्ड की कॉपी
वीज़ा की कॉपी (NRI के लिए)
फेमा घोषणा (एनआरआई के लिए)

बच्चों के लिए बचत खाता (Kids Saving Account)

ये अकाउंट उन लोगों के लिए होता है, जो अपने बच्चों के लिए अलग पैसा जमा करके रखना चाहते हैं। Kids Account का संचालन तो माता-पिता (Parents) के पास ही रहता है लेकिन वे इनसे लिंक एटीएम कार्ड की मदद से बच्चों को पैसा निकालने की सुविधा दे सकते है। बच्चों में सेविंग की आदतें विकसित करने और निवेश की उपयोगिता समझाने के लिए ये अकाउंट महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

ये ऐसा अकाउंट होता है, जिसमें एक परिवार के सभी सदस्यों को पैसा जमा करने या निकालने की सुविधा मिलती है। बाकी नियम रेगुलर सेंविग अकाउंट की तरह रहते हैं। दरअसल, कई single accounts का ग्रुप बनाकर एक फैमिली अकाउंट का नाम दे दिया जाता है। हर single account को अलग-अलग संचालित (operated) किया जाता है। लेकिन मिनिमम बैलेंस या औसत बैलेंस (average quarterly balance) का नियम सभी accounts पर अलग-अलग लागू नहीं होता। पूरे फैमिली अकाउंट में बैलेंस का औसत, सिर्फ एक अकाउंट के हिसाब से माना जाता है।

तत्काल बचत खाता (Instant Saving Account)

आजकल बैंक ऐसे सेविंग अकाउंट खोलने की भी सुविधा देने लगे हैं,जिनके लिए आपको बैंक जाने की जरूकत नहीं पड़ती । घर बैठे ऑनलाइन KYC प्रक्रिया पूरी करके ये अकाउंट खोल सकते है। सिर्फ आधार कार्ड के डिटेल्स देकर और OTP की मदद से verify करके ये अकाउंट खुल जाते हैं। इनमें बेसिक सेविंग अकाउंट की तरह सुविधाएं मिलती हैं। यानी कि जमा तथा निकासी संबंधी लिमिट होती है और कुल लेन-देन संख्या पर भी प्रतिबंध होता है। अब Video KYC की मदद भी केवाईसी प्रकिया पूरी करके भी बैंक अकाउंट खुलने लगे हैं।

कई बैंक, अब ऐसे बैंक अकाउंट खोलने की सुविधा भी देने लगे है, जिन्हें एक साथ सेविंग अकाउंट, डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। एक साथ 3 प्रकार के अकाउंट की सुविधाएं देने के कारण इस अकाउंट को 3 in 1 Account कहा जाता है। हाल के वर्षों में ट्रेडिंग के प्रति, युवाओं के बढ़ते रुझान को देखते हुए ये अकाउंट तेजी से चलन में आ रहे हैं।

एनआरई/एनआरओ खाता (NRE/NRO Accounts)

विदेश में रहने वाले भारतीय नागरिकों (Non Resident Indian-NRI) के लिए भारत में NRE Account खोलने की सुविधा मिलती है। इसमें वे अपनी विदेश में हुई कमाई को जमा कर सकते है। ऐसे अकाउंट को Non Resident External Account /या NRE Account कहते हैं।

इसी तरह NRI लोगों को एक अन्य प्रकार का अकाउंट भी खोलने की सुविधा मिलती है। जिस अकाउंट में कोई भी NRI भारत में हुई कमाई को जमा करके रख सकते हैं। ऐसे अकाउंट को Non Resident Ordinary Account (NER Account ) कहते हैं।

छात्र बचत खाता (Student Account)

कुछ बैंक, छात्रों के लिए अलग कैटेगरी का सेविंग अकांउट खोलने की सुविधा देते हैं। इनमें जमा ,निकासी और लेन-देन संबंधी नियम प्रायः बेसिक सेविगं अकाउंट की तरह होते है। यानी कि जमा, निकासी और अधिकतम लेन-देन संबंधी लिमिट हो सकती है। किसी स्कूल, कॉलेज या यूनिवर्सिटी में नामांकित छात्र अपने लिए यह अकाउंट खुलवा सकते हैं।

हाई-क्लास इनकम वाले लोगों के लिए कुछ बैंक विशेष सुविधा वाले प्रीविलेज सेविंग अकाउंट की सुविधा देते है। जैसे कि, असीमित लेनदेन की सुविधा, बैंक लॉकर पर डिस्काउंट, डेडिकेटेड बैंकर वगैरह की सहूलियत इनमें मिलती है।

इसी प्रकार कुछ बैंक Health Saving या Special Saving Account खोलने की सुविधा देते हैं। हेल्थ सेविंग अकाउंट के साथ आपको क्लेम सेटेलमेंट, प्रिहास्पिटलाइजेशन और पोस्ट हास्पिटलाइजेशन चार्ज कवरेज, डे केयर ट्रीटमेंट जैसी सुविधाएं मिल सकती है।

रेटिंग: 4.23
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 296