Banner Advertising क्या है?

बैनर विज्ञापन क्या है? [What is Banner Advertising? In Hindi]

बैनर विज्ञापन एक आयताकार ग्राफिक डिस्प्ले के उपयोग को संदर्भित करता है जो किसी वेबसाइट या ऑनलाइन मीडिया संपत्ति के ऊपर, नीचे या किनारों पर फैला होता है। क्षैतिज प्रकार के बैनर विज्ञापन को लीडरबोर्ड कहा जाता है, जबकि लंबवत बैनर को गगनचुंबी इमारत कहा जाता है और वेब पेज के साइडबार पर रखा जाता है। बैनर विज्ञापन टेक्स्ट-आधारित के बजाय छवि-आधारित होते हैं और ऑनलाइन विज्ञापन का एक लोकप्रिय रूप हैं।

बैनर विज्ञापन का उद्देश्य एक ब्रांड को बढ़ावा देना और/या मेजबान वेबसाइट से विज्ञापनदाता की वेबसाइट पर जाने के लिए आगंतुकों को प्राप्त करना है।

पॉप अप विज्ञापन और बैनर विज्ञापन में क्या अंतर है? [What is the difference between pop up ad and banner ad?]

जब कोई उपयोगकर्ता किसी वेबसाइट को देख रहा होता है, तो वे स्क्रीन पर एक ऐड को प्रदर्शित करने या "पॉप अप" करने के लिए ट्रिगर करेंगे। यह अक्सर मौजूदा सामग्री (Content) को ओवरले करता है। एक बैनर ऐड सामग्री (Content) के भीतर रहेगा और आमतौर पर इसे वेबसाइट के एक भाग बनाम रुकावट के रूप में देखा जाना चाहिए। पॉप अप विज्ञापनों को अक्सर अधिक प्रभावी माना जाता है, लेकिन वे ध्रुवीकरण भी कर रहे हैं और एक भयानक उपयोगकर्ता (Awesome user) अनुभव का कारण बन सकते हैं। Bank Guarantee (BG) क्या है?

बैनर विज्ञापन कैसे काम करते हैं? [How do banner ads work?]

बैनर विज्ञापन स्थिर या गतिशील विज्ञापन हो सकते हैं जो उपभोक्ताओं का ध्यान आकर्षित करने के लिए रणनीतिक रूप से वेबसाइट पर स्थित होते हैं। बैनर विज्ञापन के माध्यम से, ब्रांड अपने ब्रांड का प्रचार करने के साथ-साथ दर्शकों को ब्रांड की वेबसाइट पर जाने के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं। ऑनलाइन विज्ञापन के अन्य रूपों के समान, ब्रांड कई कारणों से बैनर विज्ञापन का लाभ उठाते हैं। चाहे ब्रांड का इरादा ब्रांड जागरूकता पैदा करना हो, अधिक क्लिक उत्पन्न करना हो, और/या ब्रांड की वेबसाइट पर ट्रैफ़िक लाना हो, बैनर विज्ञापन ब्रांड के व्यावसायिक लक्ष्यों को पूरा करने में प्रभावी हो सकते हैं।

क्या बैनर विज्ञापन प्रभावी हैं? [Are banner ads effective?]

Banner ad customer traffic बढ़ाने, उत्पाद बेचने और/या ग्राहक का ध्यान आकर्षित करने का एक प्रभावशाली तरीका है। यह निर्धारित करने के लिए कि बैनर विज्ञापन प्रभावी है या नहीं, किसी विज्ञापन की सीटीआर, या क्लिक-थ्रू दर को देखना महत्वपूर्ण है। क्लिक-थ्रू-दर मीट्रिक को विज्ञापन को प्रदर्शित होने की संख्या या विज्ञापन को प्राप्त छापों की संख्या से विभाजित करके प्राप्त होने वाले क्लिक की संख्या के रूप में परिभाषित किया जाता है। इसलिए, किसी बैनर विज्ञापन का CTR जितना अधिक होगा, वह विज्ञापन उतना ही अधिक प्रभावी हो सकता है। क्लिक-थ्रू दर में सुधार के लिए ब्रांड अपने पिछले Campaign performance या अन्य जानकारियों को देख सकते हैं।

Benefits of Digital Marketing in Hindi | Digital Marketing के फायदे 2022

Benefits of Digital Marketing in Hindi

आजकल हर कोई अपने business को online लाना चाहता है। क्योंकि ऑनलाइन business लाने से आप अपने product या service को आसानी से अपने टारगेट audience तक पहुंचा सकते हो। Digital marketing आपको कम पैसों में भी अपने business की Advertisement करने का मौका देता है।

दोस्तों, जैसा की आप सभी यह जानते है online मार्केट कितना बड़ा है और कही सारी लोग digital marketing करके अच्छे खासे पैसे कमा रहे है। online marketing में कई सारे ऐसे sources है जिन्हें सीख कर आप आसानी से लाखों रुपए कमा सकते है।

बढ़ती हुई technology के चलते एक आम आदमी अपने घर से किसी भी स्किल को सीख कर पैसे कमा सकता है। बस उसेको पूरे online marketing का ज्ञान होना चाहिए जिससे वो आसानी से पैसे कमा सकता है।

Table of Contents

Digital marketing क्या है

दोस्तों, digital marketing ये दो अलग शब्द से बना है digital यानी internet और marketing यानी विज्ञापन। Digital marketing का आसान मतलब यह बनता है की किसी भी product की marketing online platforms के जरिए करना उसे digital marketing कहा जाता है।

उदाहरण के लिए अगर आप अपने product की marketing किसी यूट्यूब चैनल के जरिए कर रहे हैं तो उसे digital marketing कहा जाता है। डिजिटल मार्केटिंग का मेन purpose होता है की online किसी भी product या service को लोगो तक पहुँचाना। जो digital marketing करते है उन्हे digital marketers कहा जाता है।

digital marketers सारी चीजों को analyze करते है और product की marketing करते है। साथ ही यह सारा काम online लैपटॉप या फिर PC के जरिए होता है।

Benefits of digital marketing in hindi

दोस्तों, डिजिटल मार्केटिंग के बहोत सारे फायदे है। offline marketing के तरीकों के मुकाबले digital marketing कम समय में accurate result देता है। ऑफलाइन advertisement में आपको ये नही पता चलता की आपकी Ad कितने लोगों ने देखी है। लेकिन online मार्केटिंग में आपको सारी information मिल जाती है। तो चलिए जानते है की digital marketing ke fayde क्या है।

1. Global Reach

दोस्तों, Digital marketing की सबसे बड़ी खासियत और महत्वपूर्ण भाग यही है की इसका इस्तेमाल करके आप आसानी से अपने product या सर्विस को घर बैठे लोगो तक पहुंचा सकते है।

आप अपने कस्टमर्स को अपने product या सर्विस की पूरी जानकारी आसानी से दे सकते है। पूरी दुनिया में कही भी आप अपने product की मार्केटिंग कर सकते है, जो offline मार्केटिंग में पॉसिबल नही होता है।

2. Brand building

दोस्तों, जैसा की आपको ये पता होगा की बिजनेस business में ब्रांड वैल्यू कितनी महत्वपूर्ण होती है। आज दुनिया के सभी लोग यह जानते है की मैकडोनाल्ड दुनिया के सबसे अच्छे बर्गर नही बनाता लेकिन ब्रांड वैल्यू के चलते mcdonald का नाम इतना बड़ा हो गया है।

तो उसी तरह आप आपने कंटेंट या सर्विस या फिर अपने product की ब्रांडिंग ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है खुद कर सकते है और अपना खुद का ब्रांड क्रिएट कर सकते है। आप अपने ब्रांड को कही सारे sources जैसे सोशल मीडिया के चलते उसको popular बना सकते है।

Also Read:

3. Easily notify your customer

दोस्तों, Easily notify your customer का मतलब यह बनता है की आप digital marketing के चलते अपने product ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है कि notification अपने कस्टमर को दे सकते हो। Customer को सबसे पहले पता चल जायेगा की आपने कोई product launch किया है।

4. Easily connect to customers

Online एक केवल ऐसा जरिया है जिसके चलते आप कम समय में किसी भी व्यक्ति से जुड़ सकते है। आप digital marketing के चलते अपने product के रिव्यू अपने कस्टमर को आसानी से दिखा सकते है।

Email या ब्लॉग commenting के चलते आप अपने कस्टमर से आसानी से जुड़ सकते है। और ईमेल और ब्लॉग के जरिए आप हमेशा अपने कस्टमर से जुड़े रह सकते है और आसानी से feedback इकठ्ठा कर सकते है।

5. Easy to Review

दोस्तों, किसी भी product को पॉपुलर करने में सबसे महत्वपूर्ण बात ये होती है की आप उसका हमेशा रिव्यू लेते रहे। तब जाकर आपको उस product का best version जानने को मिलेगा। और constant updates अपने product को बेस्ट बना देता है। Digital marketing के जरिए आप अपने product की खामियों को जान सकते है और उसमे जरुरी changes भी कर सकते है।

6. Return of investment

दोस्तों, डिजिटल मार्केटिंग में आप एक अंदाजा लगा सकते है की आपको अपने product को promot करने में कितना खर्चा आया और उससे आपको कितना respose मिला। इससे आपको अपनी investment पर return मालूम होती है।

Digital marketing के सारे platforms एक दूसरे से जुड़े हुए होते है। आप आसानी से किसी भी query या फिर किसी भी problem को solve कर सकते है।

7. Effective

सबसे महत्वपूर्ण बात यानी इसका output आप अक्सर किसी भी काम को करने में यह सोचते होंगे की क्या मुझे इससे फायदा होगा? लेकिन आप जब digital marketing करेंगे तो इतना जरूर है की आपकी सर्विस या product की जानकारी बहुत से लोगों के पास पहुंच जाती है कहने का तात्पर्य यह है कि digital marketing एक बहुत effective जरिया है marketing का।

8. Save Time and Money

दोस्तों, digital marketing का सबसे बड़ा फायदा ये है की आप बहोत कम पैसों में अपने product या service की marketing कर सकते है। और इसके लिए आपको ज्यादा पैसे भी खर्च नही करने पड़ते है।

इसके अलावा भी digital marketing के कही सारे फायदे है। Digital marketing में आपको सिर्फ और सिर्फ लर्निंग की जरूरत है फिर आप आसानी से digital marketing से पैसे कमा सकते है। इसी वजह से इसे एक बहुत अच्छा जरिया माना जाता है marketing का।

Also Read:

Conclusion:

दोस्तों आज के आर्टिकल में हमने आपको benefits of digital marketing in hindi के बारे में बताया। हम आशा करते है की, आपको इस लेख से महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई होगी। और अगर आपको ये लेख पसंद आया हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर जरुर कीजिएगा।

डिजिटल मार्केटिंग के इन कोर्स से करियर को बनाएं कामयाब, घर बैठे भी बन सकती हैं बिजनेस वुमन

digital marketing good salary package main

इंटरनेट के बढ़ते इस्तेमाल और डिजिटल होती दुनिया में दुनियाभर के बाजार डिजिटल होते जा रहे हैं। यही वजह है कि इस समय में डिजिटल मार्केटिंग में ग्रोथ की अच्छी संभावनाएं हैं। वर्किंग वुमन डिजिटल मार्केटिंग में अपना करियर बनाकर ना सिर्फ कामयाबी हासिल कर सकती हैं, बल्कि अच्छी सैलरी के साथ अपना एक अलग ब्रांड भी विकसित कर सकती हैं। अगर घर-परिवार की जिम्मेदारियों के कारण नौकरी करना संभव ना हो तो भी घर बैठे वे डिजिटल मार्केटिंग के जरिए अपने काम को आगे बढ़ा सकती हैं और कामयाब बिजनेस वुमन बन सकती हैं।

lucrative career in digital marketing for women inside

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

एक दशक से लंबे समय से युवाओं को करियर बनाने में मदद कर रहे करियर काउंसलर आशीष आदर्श बताते हैं,

'महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज्यादा स्टेबल, क्रिएटिव और धैर्यवान मानी जाती हैं और इसीलिए वे किसी भी काम को ज्यादा बेहतर तरीके से कर सकती हैं। कई बार महिलाओं को अपना करियर चुनने के लिए सही अवसर और सही रास्ता नहीं मिल पाता है। ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग में उन्हें अपने करियर को सही दिशा देने का रास्ता मिल सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग के अंतर्गत सबसे पहले आपको अपने टार्गेट ऑडियंस को पहचानना होता है और फिर उनके अनुसार सेवाओं को तकनीकी सहजता से उपलब्ध कराना होता है। इसमें महिलाओं के लिए इन बातों की जानकारी होना जरूरी है- टार्गेट कस्टमर डिटिजिल मार्केटिंग को लेकर कितना अवेयरर है, उसके सामने क्या-क्या विकल्प हैं और उसका अब तक का डिजिटल मार्केटिंग का तजुर्बा कैसा रहा है। इन तमाम चीजों पर कस्टमर से बात कर महिलाएं तार्किक निष्कर्ष पर पहुंच सकती हैं। इस करियर में होने का एक बड़ा फायदा ये है कि महिलाएं अपने घर बैठे अपने करियर को आगे बढ़ा सकती हैं और अपने खाली समय का सदुपयोग कर सफल बिजनेस वुमन बन सकती हैं।

digital marketing booming career inside

डिजिटल मार्केटिंग में अलग-अलग प्रॉडक्ट्स और सर्विसेज की मार्केटिंग करने के लिए डिजिटल तकनीकों का सहारा लिया जाता है। इसमें ईमेल मार्केटिंग, स्मार्ट फोन्स, डिस्प्ले एडवरटाइजिंग, रेडियो एडवरटाइजिंग आदि के जरिए कस्टमर बेस बढ़ाने की कोशिश की जाती है। इसमें टार्गेटेड कंज्यूमर्स तक पहुंचने के लिए सुविधाएं मुहैया कराई जाती हैं। डिजिटल मार्केटिंग से जुड़े टॉप कोर्सेस और इस करियर की संभावनाओं के बारे में आइए जानते हैं-

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO)

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) के तहत वेब पेज को गूगल और याहू जैसे सर्च इंजन पर देखा जाता है कि एक खास तरह का ऑडियंस किन वेबसाइट्स को देख रहा है और क्या कंटेंट सर्च कर रहा है। यह डिजिटल मार्केटिंग का एक ऐसा टूल है, जिसके जरिए ना सिर्फ वेबसाइट की रेंकिंग अच्छी होने लगती है, बल्कि उसका यूजर बेस भी बढ़ने लगता है। आज के समय में एसईओ जानकार लोगों की बाजार में अच्छी-खासी मांग है। एसईओ के लिए जो कोर्स कराया जाता है, उसमें कीवर्ड्स रिसर्च, साइट डिजाइन्स, इंटरलिंकिंग, नेटिव लिंकिंग जैसी स्किल्स सिखाई जाती है और किसी कंटेंट को ज्यादा लोगों तक पहुंचाने का प्रयास किया जाता है। अगर आपका बैकग्राउंड साइंस का रहा है और आप तकनीकी रूप से भी कुशल हैं तो एसइओ का कोर्स आपके लिए और भी ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है। इस पेशे में शुरुआती सैलरी अमूमन 2 लाख - 4 लाख रुपये की हो सकती है। एसईओ मार्केटिंग का कोर्स करने पर आप एसईओ प्रोफेशनल, वेबसाइट ऑडिटर बन सकती हैं, साथ ही आप एनालिटिक्स, बिजनेस मैनेजमेंट/ डेवलपमेंट, लिंक बिल्डिंग, इवेंट मैनेजमेंट, सोशल मीडिया एनालिस्ट, वेब डेवलपमेंट मैनेजमेंट, वेब डिजाइन, पब्लिक रिलेशन, रेपुटेशन मैनेजमेंट, पेड सर्च/ पीपीसी मैनेजमेंट, ब्लॉगिंग आदि में भी अपने लिए मौके तलाश सकती हैं।

सोशल मीडिया मार्केटिंग (एसएमएम)

इंटरनेट मार्केटिंग के तहत यह कोर्स कराया जाता है, जिसमें सोशल नेटवर्किंग साइट्स के लिए मार्केटिंग तकनीकें बताई जाती हैं। इन तकनीकों के माध्यम से सोशल मीडिया से जुड़े लोगों से संपर्क बढ़ाया जाता है और कंटेंट, तस्वीरों और वीडियो आदि के जरिए अलग-अलग तरह की सर्विसेज की जानकारी दी जाती है।

ई-मेल मार्केटिंग

ईमेल मार्केटिंग के तहत लोगों को ई-मेल भेजकर और उनसे मिले रेसपॉन्स का विश्लेषण करके डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल्स अपने टार्गेट यूजर के बीच बेस बनाते हैं। यह कोर्स करके ईमेल-मैनेजर के तौर पर कंपनियों को सर्विसेस दी जा सकती हैं। सेकेंड करियर की शुरुआत कर रही हैं तो भी इस कोर्स से आप अपने करियर को दिशा दे सकती हैं।

cheap courses main

इनबाउंड मार्केटिंग

इस कोर्स के तहत किसी सामान या सर्विस को खरीदने से पहले यूजर को उसके बारे में इन्फॉर्मेशन दी जाती है। यूजर्स आमतौर पर सर्विसेस या सामान खरीदने से पहले उसके बारे में इंटरनेट पर रिसर्च करते हैं और इस दौरान वे ऐसे कंटेट विशेष रूप से देखते हैं। यह तरीका बिजनेस बढ़ाने ईमेल मार्केटिंग करने बेहतरीन फायदे क्या है के लिए कारगर और किफायती माना जाता है।

वेब एनालिटिक्स

टार्गेट ऑडियंस किस तरह की इन्फॉर्मेशन पाना चाहते हैं, उन्हें क्या चीजें पढ़ना अच्छा लगता है, वे कितनी बार वेबसाइट पर विजिट करते हैं, कौन से इलाकों से हैं और कितनी देर तक साइट पर बने रहते हैं, इस बारे में अहम जानकारियां वेब एनालिटिक्स के जरिए मिल जाती हैं। कंटेंट या सर्विस को किस तरह से लोगों तक पहुंचाया जाए, इस बारे में एनालिटिक्स की स्टडी करके कारगर रणनीति बनाई जा सकती है। इसका कोर्स कर लेने पर ऑनलाइन बिजनेस को आगे बढ़ाने से जुड़ी सेवाएं दी जा सकती हैं और बिजनेस वुमन के तौर पर भी अपने काम को प्रमोट किया जा सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग में मिलती है ये सैलरी

डिजिटल मार्केटिंग की फील्ड में कई सैक्टर्स जैसे कि बैंकिंग, टूरिज्म, हॉस्पिटैलिटी, आईटी, मीडिया, कंसल्टेंसी, मार्केट रिसर्च, पीएसयू, पीआर एडं एडवरटाइजिंग, मल्टी नेशनल कंपनियों आदि में अच्छी जॉब हासिल की जा सकती है और सैलेरी पैकेज भी अच्छा मिलता है। शुरुआती सैलरी 2 लाख से 4 लाख रु. के बीच होती है, लेकिन अनुभव बढ़ने के साथ-साथ इसमें अच्छा पैकेज मिलने की संभावना भी बढ़ती जाती है। डिजिटल मार्केटिंग में विशेषज्ञता हासिल करने पर 2.5 लाख की मासिक सैलरी का पैकेज भी हासिल किया जा सकता है।

Student paise kaise kamaye [ 40 हजार ] 10 तरीके से छात्र पैसे कमाएं।

नमस्ते स्टूडेंट, आज के इस लेख में हम बात करने वाले हैं, Student Paise Kaise Kamaye. अगर आप एक विद्यार्थी हैं और जानना चाहते हैं स्टूडेंट पैसे कैसे कमाए तो हमारा यह लेख आपको पूरा पढ़ना चाहिए। इस लेख में work from home for a student के बारे में जानेंगे।

मैं भी एक स्टूडेंट हूं और हमें भी पता है कि Student Life में पैसों की कितनी problem रहती है। एक विद्यार्थी को हर चीज को संभाल कर चलना पड़ता है। जैसा कि मैंने बताया कि मैं भी एक Student हूं और आज के समय में, मैं पढ़ाई के साथ ऑनलाइन पैसे भी कमा रहा हूं। अगर आप जानना चाहते हैं कि मैं ऑनलाइन पैसे कैसे कमा रहा हूं तो पूरा पढ़ें।

अगर आप स्टूडेंट हैं तो आपको ज्यादा से ज्यादा फोकस अपने पढ़ाई पर करना चाहिए, अगर आप पढ़ाई पर फोकस नहीं करोगे और पैसे कमाने पर जोड़ दोगे तो पढ़ाई में कुछ न कुछ कमी आ जाएगी और रिजल्ट खराब आ सकता है। यह घटना मेरे साथ घट चुकी है इसलिए मैं बता रहा हूं।।

फिलहाल मैं बताऊंगा, छात्र पैसे कैसे कमाए और अभी मैंने आपको पर बताया था कि मैं भी एक स्टूडेंट हूं और मैं किन-किन तरीकों से पैसे कमाता हूं उसके बारे में इस आर्टिकल में बताऊंगा। देखो भाई लोग, मैं एक विद्यार्थी का तकलीफ समझ सकता हूं।

और आज के टाइम में मैं यह नहीं कहूंगा की स्टूडेंट को सिर्फ पढ़ाई पर ही फोकस करना चाहिए। पढ़ाई के साथ साथ कुछ extra income source पर भी काम करना चाहिए इससे भविष्य में पैसों की कमी नहीं रहती है। ‌अधिकतर स्टूडेंट पढ़ाई job पाने के लिए ही करते हैं और करना भी चाहिए।

लेकिन इन चीजों से हाथ के एक स्टूडेंट को कुछ ना कुछ करना चाहिए ताकि वह अपने कोचिंग का फीस और पढ़ाई के खर्चे आसानी से निकाल पाए। आज का जमाना ऑनलाइन है और ऑनलाइन कुछ समय देकर 20 से ₹25000 आराम से कमाया जा सकता है।

रेटिंग: 4.52
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 624